Quote :

सत्य से कीर्ति प्राप्त की जाती है और सहयोग से मित्र बनाए जाते हैं -कौटिल्य अर्थशास्त्र

Health & Food

रोजाना इन पत्तों को खाने से स्किन और सेहत दोनों रहती है अच्छी

Date : 11-Mar-2023

 हम अपने घरों में कई तरह के पौधे लगाते हैं. इनमें से कुछ पौधे ऐसे होते हैं जो घर के वातावरण को स्वच्छ रखते हैं और कुछ केवल घर की शोभा बढ़ाने में ही काम आते हैं. वहीं, कुछ ऐसे पौधे भी हैं जिनके पत्ते स्किन और सेहत के लिए अच्छे साबित होते हैं।

 ऐसे ही कुछ पत्ते हैं तुलसी के पत्ते. ये पत्ते अनेक घरों में पाए जाते हैं. इन्हें एंटी-ऑक्सीडेंट्स से भरपूर होने के चलते इनका चाय और काढ़ा बनाने में भी इस्तेमाल किया जाता है. लेकिन, तुलसी के पत्तों के फायदे यहीं पर खत्म नहीं होते हैं।

तुलसी के पत्ते  फायदा

सर्दी-जुकाम

तुलसी के पत्तों को सुबह खाली पेट चबाना बेहद फायदेमंद माना जाता है. इसके अलावा तुलसी के पत्तों का काढ़ा  या चाय बनाकर पीने पर भी सर्दी-जुकाम जैसी श्वसन तंत्र की दिक्कतों से छुटकारा मिलता है. सिर में ज्यादा दर्द हो तो तुलसी के पत्तों को पानी में डालकर उबालकर पीने पर दर्द से राहत मिल जाती है।

एक्ने कम करने में मददगार 

चेहरे पर लाल फुंसियां निकलने को एक्ने  कहते हैं. एक्ने होने पर त्वचा की बाहरी परत लाल और दानों से भरी हुई दिखने लगती है और त्वचा अत्यधिक सेंसिटिव भी हो जाती है. ऐसे में तुलसी के पत्ते इंफेक्शन और एक्ने बढ़ाने वाले बैक्टीरिया को मारते हैं और प्राकृतिक रूप से एक्ने कम करने में मदद करते हैं. इसके लिए तुलसी के पत्तों को खाने के अलावा इन्हें पीसकर पेस्ट बनाकर चेहरे पर फेस पैक की तरह लगाया जा सकता है. दूसरा तरीका है कि तुलसी के तेल को नारियल तेल के साथ मिक्स करके रूई की मदद से एक्ने पर लगाएं जिससे त्वचा इसे बेहतर तरीके से सोख सके। 

डायबिटीज 

डायबिटीज होने पर व्यक्ति को अपने खानपान पर विशेष ध्यान देने की जरूरत होती है. इसके अलावा ऐसी चीजों के सेवन पर जोर दिया जाता है जो ब्लड शुगर को कम करने या फिर सामान्य रखने में मदद करें. ऐसे में तुलसी के पत्तों का सेवन फायदेमंद होता है. तुलसी के पत्ते ब्लड ग्लुकोज लेवल को सामान्य रखने में मददगार साबित हो सकते हैं. डायबिटीज के मरीज इन पत्तों को साफ करके इन्हें चबाकर खा सकते हैं।

पाचन होता है बेहतर 

तुलसी एसिड रिफलक्स को बैलेंस करती है और पाचन को दुरुस्त करने में भी मददगार है. पेट में गड़बड़ी महसूस होने पर तुलसी के पत्तों को गर्म पानी में पकाकर इसकी चाय पी जा सकती है. ये पत्ते हर्बल चाय में भी तरह-तरह से इस्तेमाल किए जा सकते हैं।

तुलसी के पत्तों को चबाने पर मुंह से आ रही बदबू से छुटकारा मिलता है। आप इन पत्तों को चबाना अपनी आदत भी बना सकते हैं. रोज सुबह उठकर कुछ तुलसी के पत्तों को चबा लें। इसके अलावा, जब भी मुंह से बदबू आती महसूस हो तो तुलसी के पत्ते खा लें। बदबू कम होने लगेगी। 


इम्यूनिटी होती है मजबूत 

तुलसी के पत्तों में कई एंटी-ऑक्सीडेंट्स और एंटीबैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं. यह पत्ते शरीर को कई इंफेक्शंस से दूर रखने में भी सहायक साबित होते हैं. ऐसे में नुकसानदायक बैक्टीरिया से लड़ने वाले इन पत्तों को शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए खाया जा सकता है. 

 
RELATED POST

Leave a reply
Click to reload image
Click on the image to reload









Advertisement