Quote :

सत्य से कीर्ति प्राप्त की जाती है और सहयोग से मित्र बनाए जाते हैं -कौटिल्य अर्थशास्त्र

National

राष्ट्रपति के शांतिनिकेतन दौरे के दौरान बंगाल पुलिस ने छह आदिवासी नेताओं को रखा नजरबंद

Date : 28-Mar-2023

 बोलपुर, 28 मार्च  आदिवासी संगठनों के कई नेता राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के शांति निकेतन दौरे के दौरान उनसे मिलने वाले थे लेकिन राज्य पुलिस ने छह आदिवासी नेताओं को उनके घर में ही नजरबंद कर दिया। उन्हें मंगलवार सुबह से ही उनके घरों में नजरबंद रखा गया था। ऐसे में राष्ट्रपति जब तक शांति निकेतन में रहीं, तब तक नेताओं को अपने घरों में ही रहना पड़ा।

उल्लेखनीय है कि देउचा-पचमी में ओपन पिट कोल माइनिंग के लिए राज्य सरकार जमीन का अधिग्रहण कर रही है। क्षेत्र के मूल निवासी शुरू से ही खनन का विरोध कर रहे हैं। आरोप है कि बोलपुर-शांतिनिकेतन इलाके में कई आदिवासियों की जमीनों पर कब्जा किया जा रहा है। आरोप यह भी लग रहे हैं कि वहां रिसॉर्ट, होटल, हाउसिंग, कॉटेज, बहुमंजिला आदि बनाए जा रहे हैं। इसके अलावा, आदिवासी संगठनों के नेताओं को आदिवासियों की शिक्षा और स्वास्थ्य के मुद्दों पर राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू से मिलना था। आदिवासी संगठनों के नेताओं ने विश्व भारती विश्वविद्यालय प्रशासन को पत्र लिखकर राष्ट्रपति से मिलने की अनुमति मांगी थी लेकिन अंतिम समय में इसकी अनुमति नहीं दी गई। आखिरकार मंगलवार सुबह छह बजे से आदिवासी नेता राम सोरेन, सोना मुर्मू, डॉ. बिनय कुमार सोरेन, मिंटी हेम्ब्रम, रथिन किस्कू और सिबू सोरेन को नजरबंद कर दिया गया। उनके घर पर सुबह से ही पुलिस तैनात थी। नेताओं को अपने-अपने घरों में तब तक रहने के लिए कहा गया जब तक राष्ट्रपति शांति निकेतन में रहीं।

 
RELATED POST

Leave a reply
Click to reload image
Click on the image to reload









Advertisement